गुमनाम रहकर बिजली चोरी की शिकायत कैसे करें (UPPCL) 2024

electricity theft complaint in up :- भारत सरकार एवं राज्य सरकार के साझे प्रयासों से प्रदेश में बिजली आपूर्ति व्यवस्था को सुधारने का लगातार प्रयास किया जा रहा है परंतु शहरों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाली बिजली चोरी इस प्रयास में एक बड़ी बाधा बनकर उभर रही है। बिजली चोरी की समस्या बढ़ने से बिजली खपत बढती है जिसकी वजह से बिजली कटौती की समस्या भी बढ़ती है।

सरकार बिजली चोरी की समस्या से निपटने के लिए समय-समय पर विभिन्न कार्य करती है बिजली चोरी करते हुए पकड़े जाने पर सरकार ने सख्त सजा का प्रावधान किया हुआ है जिसके तहत 3 वर्ष की सजा एवं जुर्माना लगाया जाता है। यदि आपके आसपास भी बिजली चोरी किसी व्यक्ति के द्वारा की जा रही है तो uppcl electricity theft complaint number अथवा electricity theft complaint online माध्यम से शिकायत कर सकते हैं। सरकार ने बिजली चोरी की शिकायत करने वालों का नाम एवं उनसे जुडी अन्य जानकारी को गोपनीय रखने का फैसला किया है ताकि उन्हें किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।

यदि आपके मोहल्ले में कोई व्यक्ति बिजली की चोरी कर रहा है तो तो आप ऑनलाइन माध्यम से electricity theft complaint uppcl को दे सकते हैं। यदि आपको ऑनलाइन माध्यम से बिजली चोरी की शिकायत करना नहीं आता है तो इसके लिए आपको हम इस पोस्ट के माध्यम से बताएंगे कि बिजली चोरी की ऑनलाइन शिकायत कैसे करें। बिजली चोरी की शिकायत करना राष्ट्र के हित में आपका सहयोग प्रदर्शित करता है यदि आप इसमें सहयोगी बनना चाहते हैं तो आप इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें।

इसे भी पढ़े :-यूपी में गन्ना भुगतान 2024 ऑनलाइन कैसे देखे?

आर्टिकलयूपी में बिजली चोरी की शिकायत कैसे चेक करे
राज्यउत्तर प्रदेश
विभागउत्तर प्रदेश पॉवर कारपोरेशन लिमिटेड
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के नागरिक
उद्देश्यउत्तर प्रदेश में बिजली चोरी की समस्या को खत्म करना
ऑनलाइन वेबसाइट https://uppcl.org/

बिजली चोरी की ऑनलाइन शिकायत कैसे करें :- राज्य बिजली चोरी पर अंकुश लगाने के लिए यूपीपीसीएल ने बिजली मित्र लुकिंग को शुरू किया है। कॉरपोरेशन यह व्यवस्था लेकर इसलिए आई है क्योंकि अभी तक ऑनलाइन बिजली चोरी शिकायतकर्ता को अपना नाम मोबाइल नंबर डिस्काउंट तथा सब स्टेशन की जानकारी देनी होती थी जिसकी वजह से शिकायतकर्ता की जानकारी ओपन हो जाती थी जिससे उसे अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता था।

शिकायतकर्ता की सुरक्षा का ख्याल रखते हुए कॉरपोरेशन एवं ने बिजली मित्र लिंक को जारी किया है जिसकी सहायता से शिकायत करने पर आप अपनी जानकारी को सुरक्षित रख सकते हैं जिससे आपकी किसी भी प्रकार की डिटेल्स सार्वजनिक नहीं होगी।


मैं भारत में बिजली चोरी की रिपोर्ट कैसे करूं?:- यदि अपने नगर मोहल्ले में हो रही बिजली चोरी की शिकायत ऑनलाइन दर्ज करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा

फिर किसी व्यक्ति को अपने क्षेत्र में हो रही बिजली चोरी की शिकायत दर्ज करानी है तो आपको सबसे पहले यूपीपीसीएल की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।

यूपीपीसीएल (UPPCL) का होम पेज खुलने पर आपको नीचे की ओर बिजली मित्र चोरी की शिकायत विकल्प पर जाकर क्लिक करना होगा।

electricity theft complaint in up

अब आपके सामने एक नया वेब पेज ओपन होगा जिसमें आपको नीचे बिजली चोरी की शिकायत करने हेतु क्लिक करें का विकल्प मिलेगा जिसमें आपको क्लिक करना होगा।

electricity theft complaint in up

अब आपकी स्क्रीन पर एक नया वेब पेज ओपन होगा। जिसमें आपको अपनी समस्त डिटेल प्रदान करनी होगी। डिटेल प्रदान करने की पश्चात आपको अपने बिजली चोरी से संबंधित समस्त डिटेल देनी होगी एवं फोटो भी अपलोड करना होगा। अंत में कैप्चा कोड भरकर सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।

अब आपका बिजली चोरी की शिकायत की ऑनलाइन प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी। जिसके पश्चात आपका नाम आये बिना ही बिजली चोरी करने वाले व्यक्ति पर कार्यवाही हो जायगी।

बिजली चोरी की शिकायत नंबर उत्तर प्रदेश :- यदि आप बिजली चोरी की शिकायत विजिलेंस बिजली विभाग उत्तर प्रदेश को ऑनलाइन माध्यम से अथवा कार्यालय में जाकर इसके लिए आपको टोल फ्री नंबर की भी सुविधा प्रदान की हुई है। आप इस टोल फ्री नंबर की सहायता से बिजली चोरी की सहायता शिकायत कर सकते हैं।

बिजली चोरी की शिकायत करने के लिए कंज्यूमर हेल्पलाइन नंबर 1800 114000/1440 है।

यदि आप टोल फ्री नंबर के माध्यम से बिजली चोरी की शिकायत दर्ज करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको tol free number 1912 पर कॉल करना होगा।

यदि आपने बिजली चोरी की शिकायत विभाग में दर्ज कराती है और इसके लिए किसी प्रकार का एक्शन नहीं लिया गया है तो आप 0522- 2287747, 2287749, 2287092, 2287831 पर कॉल कर बिजली चोरी की शिकायत दर्ज करा सकते है।

बिजली चोरी की ऑनलाइन शिकायत कैसे करें:- पहले बिजली चोरी की शिकायत करने पर पहले शिकायत कर्ता का नाम एवं डिटेल्स उजागर हो जाती थी। जिससे उनको तमाम परेशानियों क सामना करना पड़ता था। अब बिजली मित्र लिंक आने के बाद कोई भी शिकायत कर्ता अपनी डिटेल्स दिया बिना ही बिजली चोरी की शिकायत कर सकता है। ऑनलाइन बिजलीचोरी की शिकायत न कर सकने पर आप टोल फ्री नंबर का भी सहारा ले सकते है।

Q1:- बिजली चोरी पर कौन सी धारा लगती है?

Ans:- बिजली चोरी के मामले में भारतीय कानूनी व्यवस्था के तहत, दो अलग-अलग धाराएं लागू होती हैं। पहले मामले में, जब कोई व्यक्ति पहली बार बिजली चोरी में पकड़ा जाता है, तो उसके खिलाफ आईपीसी (भारतीय दण्ड संहिता) की धारा 135 लागू होती है। इस धारा के तहत, व्यक्ति को सजा और जुर्माना हो सकता है।

दूसरे मामले में, जब व्यक्ति दोबारा बिजली चोरी में पकड़ा जाता है, तो इसके खिलाफ आईपीसी की धारा 138-बी लागू होती है। इस धारा के तहत, विशेष रूप से बिजली चोरी के तत्वों को सजा हो सकती है और जुर्माना भी लग सकता है। इसके तहत कड़ी सजा और भरपूर जुर्माना का प्राविधान है, जो चोरी की गंभीरता को दर्शाता है।

इन धाराओं के तहत कानूनी कदम उठाने के परिणामस्वरूप, बिजली चोरी करने वालों को भारी सजा और जुर्माना का सामना करना पड़ सकता है, जो इस तरह की अवैध गतिविधियों को रोकने का उदाहरण स्थापित करता है।

Q2:- बिजली चोरी में कितना जुर्माना लगता है?

Ans:- बिजली चोरी करते हुए पकडे जाने पर आपको 3 से 5 साल तक की जेल एवं 5 से 10 हजार रूपये तक की जुर्माना लगाया जाता है।

Leave a Comment