बीट पुलिसिंग क्या है? बीट पुलिस के कार्य?

बीट पुलिसिंग क्या है ;- उत्तरप्रदेश में पुलिस ने समाज में कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए समय समय पर कुछ न कुछ कार्य करती रहती है। इसी कर्म में उत्तर प्रदेश पुलिस ने बीट पुलिस की व्यवस्था प्रारम्भ की है। बीट पुलिस में कई ऑफिसर एवं पुलिस वाले अपने एरिये के विभिन्न क्षेत्रो मे तय की जाती है. पुलिस थाणे का इंचार्ज दरोगा अपने क्षेत्र को बीट एरिया बाँट कर वहां सिपाहियों को तैनात करता है।

आपको आज हम इस लेख के माध्यम से बीट पुलिस एवं बीट एरिया के बारे में विस्तार से बतायेगे। अधिक जानकरी को प्राप्त करने के लिए इस लेख में अंत तक बने रहे।

इसे भी पढ़े :- “ई पी एफ अकाउंट में मोबाइल नंबर कैसे जोड़े

क्या है बीट पुलिस :-

जनपद में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए जिले के विभिन्न महत्वपूर्ण क्षेत्र में पुलिस थाने बनवाती है। इन पुलिस थानों में कई पुलिस अधिकारी एवं कर्मचारी तैनात रहते हैं। एक थाने का हेड SHO अर्थात थाना प्रभारी दरोगा होता है। पुलिस डरेगा अपने राज्य अपने एरिया में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए अपने एरिया के अंतर्गत आने वाले विभिन्न क्षेत्रों को बीट एरिया में बदलता है जिसके जिम्मेदारी वह खाने में तैनात हेड कांस्टेबल को प्रदान करता है। या हेड कांस्टेबल उसे एरिया के अंतर्गत कानून व्यवस्था की समस्त प्रक्रियाओं को देखते हुए उन्हें सुचारू रूप से चलता है। यही बीट पुलिसिंग कहलाती है.

बीट पुलिस कांस्टेबल क्या होता है

यदि किसी थाना के इलाके में घनी आबादी होती है। तो उसे इलाके में क्राइम होने की आशंका सबसे ज्यादा होती है ऐसे में पुलिस थाने का कार्य उसे इलाके में क्राइम को रोकने का होता है। पुलिस उस इलाके को छोटे-छोटे बीट इलाकों में बांट देता है ताकि उन इलाकों में सिपाहियों की तैनाती कर अपराधों पर लगाम लगाई जा सके। इन बीट इलाकों में तैनात पुलिस सिपाहियों को बीट पुलिस कांस्टेबल कहते हैं।

इस बीट प्रणाली के तहत बीट एरिया के कानून की समस्त जिम्मेदारी हेड कांस्टेबल पर निर्भर करती है इसकी तैनाती थाने के दरोगा के द्वारा की जाती है। बीट इलाके का इंचार्ज हेड कांस्टेबल होता है जो कि उस एरिया के अंतर्गत अपराधियों वांछितो और हिस्ट्री सीटर जैसे लोगों की जानकारी जमा करता है साथ ही उस एरिया के समस्त महानुभाव और गणमान्य व्यक्तियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी निभाता है। उस क्षेत्र के समस्त गणमान्य व्यक्तियों की सुरक्षा के लिए वह उनसे संबंधित जुड़ी हुई समस्त जानकारी को अपने क्षेत्र के SHO के साथ साझा करता है। इसी को बीट हेड कांस्टेबल कहा जाता है।

बीट बुक क्या है- बीट पुलिसिंग क्या है

प्रत्येक पुलिस थाने में बीट प्रणाली होती है। बीट पुलिसिंग के कार्य को आसानी से करने के लिए प्रत्येक थाने में प्रत्येक क्षेत्र की बीट बुक होती है जिसमें उसे क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले समस्त एरिया का नक्शा महत्वपूर्ण इमारतें गलियां सके एटीएम बैंक सरकारी दफ्तर गेस्ट हाउस होटल महत्वपूर्ण व्यक्तियों के निवास एवं अपराधियों से जुड़ी हुई जानकारियां होती हैं। आवश्यकता होने पर इस बीट बुक के माध्यम से क्षेत्र की जानकारी को एकत्रित किया जाता है।

Leave a Comment